संसद पर पेगासस जासूसी कांड का साया, समय से पहले खत्म हो सकता है संसद का मानसून सत्र

पेगासस जासूसी कांड पर विपक्ष के साथ संसद में दो हफ्ते से चल रहे टकराव को देखते हुए सरकार मानसून सत्र को समय से पूर्व खत्म करने के विकल्प पर विचार कर रही है। इस मुद्दे पर विपक्ष की एकजुटता और बहस की अपनी मांग से पीछे नहीं हटने के चलते दोनों सदनों में सियासी घमासान थमने के आसार नजर नहीं आ रहे। इसलिए सरकार ने भी बीते चार दिनों के दौरान हंगामे में ही आठ विधेयकों को बिना चर्चा के पारित करा अपने विधायी एजेंडे को पूरा करने की दिशा में कदम तेज कर दिए हैं। वहीं संसद सत्र समाप्त करने की योजना को लेकर विपक्ष ने सरकार पर संसद से भागने का आरोप लगाया है। सत्र खत्म करने के प्रस्ताव का विरोध करने का भी एलान किया है।

जासूसी कांड को लेकर विपक्ष की आक्रामकता को देखते हुए टकराव का हल निकलने की उम्मीद कमजोर पड़ने लगी है। इसे देखते हुए सत्र को जल्द समाप्त किए जाने की आशंका से सत्तापक्ष के रणनीतिकार इन्कार नहीं कर रहे हैं। सत्तापक्ष जासूसी कांड पर दोनों सदनों में संग्राम को विपक्ष का राजनीतिक एजेंडा बताते हुए इस पर बहस को जरूरी नहीं मान रहा है। उसका कहना है कि सत्र में जनता से जुड़े दूसरे जरूरी मुद्दों पर चर्चा होनी चाहिए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates