उत्तराखंड विस चुनाव: इस बार 80 साल से ऊपर और शारीरिक रूप से कमजोर लोगों बुजर्ग, दिव्यांग घर बैठे पोस्टल बैलेट से दे सकेंगे वोट

 

इस बार विधानसभा चुनाव में इलेक्शन कमीशन ने पहली बार 80 साल से ऊपर या शारीरिक रूप से कमजोर लोगों के लिए घर बैठे वोट देने का अधिकार देने जा रहा है. आगामी विधानसभा चुनाव में शारीरिक रूप से कमजोर लोग घर बैठे पोस्टल बैलेट से वोट दे सकेंगे.

देहरादून: प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कुछ ही समय शेष बच गया है. ऐसे में इलेक्शन कमीशन ने भी अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं. वहीं इस बार विधानसभा चुनाव में इलेक्शन कमीशन ने पहली बार 80 साल से ऊपर या शारीरिक रूप से कमजोर लोगों के लिए घर बैठे वोट देने का अधिकार देने जा रहा है. आगामी विधानसभा चुनाव में शारीरिक रूप से कमजोर लोग घर बैठे पोस्टल बैलेट से वोट दे सकेंगे.
80 साल से ऊपर और शारीरिक रूप से कमजोर लोगों को चुनाव आयोग घर जाकर बैलेट पोस्टल के जरिए वोट देने की सुविधा प्रदान करेगा. लेकिन इस विषय के लिए पहले से ही एक एप्लीकेशन चुनाव आयोग को देना होगा. गौर हो कि उत्तराखंड में आगामी 2022 विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत राज्य निर्वाचन आयोग चुनाव से संबंधित तमाम तैयारियों में जुट चुका है. चुनाव की तैयारियों को लेकर प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त सौजन्य सिंह द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी गई.

वहीं, वोटर हेल्पलाइन एप के माध्यम से वोटरों को ऑनलाइन सुविधा दी जाएगी. कोविड-19 को देखते हुए निर्वाचन आयोग की ओर से वोटिंग बूथ की संख्या बढ़ाई जा रही है.राज्य में कुल 11 647 बूथ बनाए गए हैं. 500 अतिरिक्त बूथ अतिरिक्त कोविड को देखते हुए बनाये गए हैं. राज्य निर्वाचन आयोग आयुक्त सौजन्य सिंह ने बताया कि इस बार वोटर हेल्पलाइन ऐप के माध्यम से वोटरों को ऑनलाइन तरीके से चुनाव में वोट से संबंधित तमाम जानकारियां दी जाएंगी.
एक जनवरी 2021 के हिसाब से राज्य में कुल मतदाताओं की संख्या 78 लाख 46 हजार है. हालांकि, अभी वोटरों की संख्या और अधिक बढ़ सकती है, जिसके लिए चुनाव आयोग द्वारा कार्य जारी है. 15 जनवरी 2021 से 12 अक्टूबर 2021 के बीच राज्य में मतदाताओं की संख्या में कुल 30 हजार 808 मतदाताओं की बढ़ोत्तरी हुई है.उत्तराखंड में पुरुषों के सापेक्ष महिला लिंगानुपात में अच्छी वृद्धि हुई है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates