चार धाम यात्रा को लेकर बद्रीनाथ धाम में विष्णु घाटी के लोगों द्वारा भव्य जुलूस प्रदर्शन ।

चार धाम यात्रा को लेकर बद्रीनाथ धाम में विष्णु घाटी के लोगों द्वारा भव्य जुलूस प्रदर्शन ।

 

no
खाली बर्तन के लेकर सड़कों पर उतरे लोग ।
कहां 18 तारीख को अगर नहीं आता है सकारात्मक फैसला तो मजबूरन करेंगे अपने आराध्य देव बद्री विशाल के दर्शन।

आज बद्रीनाथ धाम में बद्री संघर्ष समिति के नेतृत्व में विष्णु घाटी के गोविंदघाट, पिनोला ,पांडुकेश्वर, लामबगड़, हनुमान चट्टी, बैनाकुली, बद्रीनाथ बामणी, माना, के लोगों द्वारा चार धाम यात्रा को लेकर साकेत तिराहे से लेकर बस स्टैंड तक चार धाम यात्रा खोलने को लेकर भव्य रैली निकाली गई।
सुबह साकेत तिराहे से विष्णु घाटी की आक्रोशित जनता व स्थानीय महिलाओं द्वारा सूबे के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, क्षेत्रीय विधायक महेंद्र भट्ट ,पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज व प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर बस स्टैंड पहुंची जिसके बाद सभी लोगों ने खाली बर्तन बजाकर सरकार को बताया कि अब हमारी नौबत आ चुकी है अब तो चार धाम यात्रा शुरू कर दी जाए। वही लोगों का कहना है कि अगर 18 तारीख को चार धाम यात्रा को लेकर कोई शुभ समाचार नहीं आता है तो स्थानीय लोग मजबूरन ही अपने आराध्य देव भगवान बद्री विशाल जी के दर्शन के लिए मंदिर में प्रवेश करेंगे जिसके बाद सरकार को उनके विरुद्ध जो भी कार्रवाई अमल में लानी है वह कर ले।

बद्री संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजेश मेहता का कहना है मेरी समझ से परे है कि जहां सभी पर्यटक स्थल खोल दिए गए हैं वहां आज तक चार धाम बंद हैं अगर चार धाम के साथ-साथ पर्यटक स्थल भी बंद रहते तो एक समझने की बात थी कि कोविड के चलते हैं सभी स्थान बंद है लेकिन यह दोहरा रवैया सरकार की तरफ से दिख रहा है हम सरकार से विनती करते हैं कि जल्द से जल्द चार धाम यात्रा सुचारू करें ताकि धाम में रह रहे सभी लोगों की आर्थिकी में सुधार हो सके।

अपने मेहनत व लगन के बलबूते हाईस्कूल व इंटर की परीक्षाओं में मेरिट लिस्ट में नाम दर्ज करवाने वाले यह कन्हैया चौहान का कहना है पहले चरण में मैंने विद्या तो कमा ली लेकिन दूसरे चरण में धन कहा से कमाऊ ओर पुण्य तो बहुत दूर की बात है इस तरह से इस सरकार ने हमें बेरोजगार किया है जिसका कोई जवाब नहीं । अगर सरकार जल्द ही यात्रा सुचारू नहीं करवाती है तो में अकेले ही आमरण अनशन पर बैठ अपना आत्मदाह कर दूंगा।

बद्रीनाथ भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के अध्यक्ष मनदीप भंडारी का कहना है कि में स्वयं सत्ताधर पार्टी का प्रतिनिधि हूं लेकिन मैं भी समझ नहीं पा रहा हूं कि आखिर सरकार क्यों जनता की मांगों को पूरा करने में विफल हो रही है जबकि जनता द्वारा चुनी सरकार को ही जनता का हितैषी होना चाहिए लेकिन ऐसा ना हो कर यह बिल्कुल विपरीत हो गया है मैं भारतीय जनता पार्टी का एक प्रतिनिधि होने के नाते यह कहता हूं कि अगर आज सरकार ने चार धाम में बेरोजगार बैठे स्थानीय लोगों की बात ना मानी तो 2024 में तो क्या अगले कई दशकों तक उत्तराखंड में पार्टी का नाम निशान नहीं रहेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates