नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री वीके सिंह ने गोवा हवाई अड्डे के बंद होने की अफवाहों को किया खारिज

गोवा।  केंद्र सरकार की गोवा के मौजूदा हवाई अड्डे को बंद करने की कोई योजना नहीं है। यह नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री वीके सिंह ने बुधवार को साफ तौर पर स्पष्ट किया है। गोवा के डाबोलिम हवाई अड्डे के बंद होने की अफवाहों का खंडन करते हुए मंत्री वीके सिंह ने समाचार एजेंसी एएनआइ को बताया कि इसे बंद करने का केंद्र सरकार का कोई इरादा नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि मैं यहां स्पष्ट करने के लिए हूं कि नए एयरपोर्ट के कारण पिछले हवाई अड्डे को बंद नहीं किया जाएगा।

गोवा में चल रहे सम्मेलन के दौरान जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह ने कहा कि नया एयरपोर्ट एक या दो महीने में चालू हो जाएगा। एयरपोर्ट अथॉरिटी इंडिया  द्वारा आयोजित सम्मेलन तीन दिवसीय कार्यक्रम है। यह पणजी के एक होटल में ‘थिंक ग्लोबल, कोलैबोरेट रीजनल, एक्म्प्लिश लोकल’ थीम के साथ आयोजित किया जा रहा है। इस सम्मेलन में भाग लेते हुए वीके सिंह ने कहा कि यह एक निराधार धारणा है। हम बहुत स्पष्ट हैं कि 2010 में कैबिनेट में एक निर्णय लिया गया था, जिसे सभी ने स्वीकार किया था कि गोवा में दो हवाई अड्डे होंगे जो समानांतर चलेंगे। इसलिए डाबोलिम हवाई अड्डे को बंद करने की कोई योजना नहीं है।

इस दौरान वीके सिंह ने विश्वास व्यक्त किया कि नए हवाई अड्डे से राज्य में पर्यटन को और बढ़ावा मिलेगा और सरकार दोनों हवाई अड्डों को समान गति और जुनून से चलाएगी। बता दें कि गोवा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा एक निर्माणाधीन ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा है, जो उत्तरी गोवा जिले के पेरनेम तालुका के मोपा में बनाया जा रहा है। हवाई अड्डे को वर्तमान में जीएमआर गोवा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड द्वारा लगभग 3,000 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जा रहा है।

गौरतलब है कि गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने सितंबर में गोवा के मोपा अंतरराष्ट्रीय ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे पर पहली उड़ान के संचालन के बारे में लोगों को नागरिक उड्डयन महानिदेशालय के संचालन के बारे में बताया था। DGCA ने मोपा हवाई अड्डे के रनवे पर मुंबई से इंडिगो की एक कमर्शियल उड़ान का सफलतापूर्वक परीक्षण किया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates