निजी स्कूलों से अभिभावकों को राहत दिलाएगा शिक्षा विभाग का यह कदम..

देहरादून-: कोविड-19 के आगमन के साथ ही पूरे देश भर के स्कूलों पर ताला पड़ गया लेकिन ऑनलाइन पढ़ाई के माध्यम से बच्चों को शिक्षा देने का काम चलता रहा । वही महामारी के संकट काल में निजी स्कूलों ने अभिभावकों का नाक में दम कर दिया । फीस का दबाव और कई तरह की निजी स्कूलों की हरकतों से अभिभावक परेशान हुए लेकिन अब उत्तराखंड शिक्षा विभाग ने निजी स्कूलों पर शिकंजा कसने के लिए एक बड़ा कदम उठाया है ।राज्य में कोविड-19 से संक्रमित के मामलों में गिरावट आने पर सरकार ने 9 से बारहवीं तक के स्कूलों को खोलने की अनुमति दे दी तभी निजी स्कूलों की मनमानी की शिकायतें आ रही है। इसीलिए राज्य के शिक्षा विभाग द्वारा अभिभावकों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। शिक्षा निदेशक सीमा जौनसारी ने सभी जिलों के मुख्य शिक्षा अधिकारियों को पत्र लिखकर स्पष्ट आदेश दिए हैं कि कोरोना की गाइडलाइन का पूरा पालन स्कूलों द्वारा सुनिश्चित कराया जाए और उन्हें कई निजी स्कूलों की शिकायतें मिल रही है। कई स्कूल अभिभावकों पर सहमति पत्र में यह लिखने का तक दबाव बनाने में लगे हैं कि बच्चे को संक्रमित होने पर पूरी अभिभावक की जिम्मेदारी होगी। शिक्षा निदेशक ने आदेश दिया कि ऐसे स्कूलों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। साथ ही शिक्षा निदेशालय ने प्राइवेट स्कूलों की मनमानी के विरुद्ध अभिभावकों को शिकायत करने के लिए 18001804132 हेल्पलाइन नंबर जारी किया है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates