डोईवाला क्षेत्र की सॉन्ग नदी कालू वाला की खनन निकासी शुरू करने की मांग को लेकर खनन कारोबारियों ने भाजपा नेता संजीव सैनी के नेतृत्व एसडीएम युक्ता मिश्रा से की मुलाकात।

 

डोईवाला क्षेत्र की सॉन्ग नदी कालू वाला की खनन निकासी शुरू करने की मांग को लेकर खनन कारोबारियों ने भाजपा नेता संजीव सैनी के नेतृत्व एसडीएम युक्ता मिश्रा से की मुलाकात।
सीएम के नाम एसडीएम को ज्ञापन किया प्रेषित।

डोईवाला
संजय राठौर

खनन से जुड़े लोगों ने उप जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन
कहा बेरोजगारी से जूझ रहे हैं खनन व्यवसाय से जुड़े लोग!
खनन भाई साहब से जुड़े लोगों का कहना है कि खनन व्यवसाय से काफी समय से जुड़े हुए है जिससे कि -सभी खनन व्यवसायों का परिवारिक खर्चा पूर्णतः खनन व्यवसाय पर निर्भर है। महोदय हमारे क्षेत्र कालूवाला, बक्सरवाला घाट में खनन कार्य 4 वर्षों से बंद है जिससे काफी संख्या में खनन व्यवसाय श्रमिक ड्राइवर ट्रास्पोटर इत्यादि बेरोजगार एवं आर्थिक रूप से कमजोर हो गये हैं और आर्थिक तंगी से झूझ रहे है।
बक्सरवाला कालूवाला इन दोनो घाटो से राज्य सरकार को अच्छा राजस्व का लाभ प्राप्त होता है

इस क्षेत्र में उत्तराखण्ड राज्य सरकार की खनन निति के अनुरूप 3 इस्क्राइनिंगप्लाट की स्वीकृती हुई है जिसका संचालन पूर्णत इन दोनों घाटों पर निर्भर है एक घाटों का संचालन पिछले 4 वर्षों से पूर्णतः बंद है जिस कारण खनन व्यवसायियों की आर्थिक स्थिति काफी दयनीय है

खनन व्यवसायियों ने कहा कि तकलीफ 2 मई को प्रशासन द्वारा घाटो के संचालन हेतु जनसुनवाई रखी गई थी जिसमे खनन व्यवसायियों को पहले से अवगत नहीं किया गया था

एवं स्थानीय नेताओं और द्वारा खनन व्यवसायियों की आवाज को दबाने का

प्रयत्न किया गया और उनको अपना पक्ष रखने का मौका नहीं दिया गया।
स्थानीय नेताओं एवं भू-माफियो द्वारा नदी के जलस्तर को खनन कार्य से जोड़ा जा रहा है जो कि पूर्णतः गलत है। खनन कार्य वैज्ञानिक एवं उत्तराखण्ड सरकार के

नियामानुसार ही होता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates