जोशीमठ में स्वर्ण विजय दिवस को लेकर सेना में जोश

जोशीमठ में स्वर्ण विजय दिवस को लेकर सेना में जोश

जोशीमठ/चमोली भारत पाकिस्तान युद्ध विजय के 50 वर्ष पूरा होने व बांगलादेश को अलग देश के रूप में बनाये जाने को लेकर जोशीमठ में सेना ने स्वर्णिम विजय दिवस बडे ही धूम धाम से मनाया। जोशीमठ के गढवाल स्काउट मैदान में सेना के अधिकारियों ने युद्ध में शहीद हुए जवानों को पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजली दी।जिसके बाद आईटीबीपी प्रथम वाहिनी के मैदान में युद्ध में प्रयोग होने वाले हथियारों की प्रर्दशनी लगाई गई । कोरोना को देखते हुए सिविल लोगों को इस प्रर्दशनी में सामिल नही होने दिया गया लेकिन केवी जोशीमठ में अध्यनरत सिनियर छात्र छात्रओं ने युद्ध हथियारों की प्रर्दशनी देखी ,इस दौराना छात्र छात्रायें काफी रोमांचित नजर आये।स्वर्णिम विजय दिवस को लेकर सैनिकों एवं अधिकारियों में खासा उत्साह देख गया। वहीं गढवाल स्कउट की बैंडों की मधुर स्वर लहररियों ने सैनिकों में और उर्जा भरी तो दूसरी ओर केवी के छात्र छात्रओं को भी देश भक्ति का संदेश दिया। केवी के प्रधानाचार्य मयंक शर्मा ने सेना के इस कार्यक्रम को ज्ञानवर्धक एवं मार्गदर्शक करार दिया। कहा कि सेना के साथ -सरहदी क्षेत्र जोशीमठ समेत पूरे देश की भावनायें जुडी हुई हैं व इस प्रकार के कार्यक्रमों से छात्र छात्राओं में भी सेना में भर्ती होने का जोश और जज्बा जागृत होता है। उन्होंने सैन्य अधिकारियों से उनके विद्यालय में अध्यनरत बच्चों को सेना की विविध सामाजिक गतिविधियों में शामिल करने की अपील की।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates