Uttarakhand Board Result:कम नंबरों की न करें चिंता, मेधावी छात्रों को मिलेगा एग्जाम देने का मौका

शिक्षा विभाग के नए मूल्यांकन फार्मूले की वजह से उत्तराखंड बोर्ड के करीब करीब सभी छात्र पास हो गए हैं। लेकिन जो छात्र औसत अंकों से संतुष्ट नहीं है उन्हें परीक्षा देने का मौका भी मिलेगा। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने आज रिजल्ट जारी करने के बाद सभी छात्रों को शुभकामनाएं दी। साथ ही कहा कि मेधावी छात्रों के साथ किसी भी प्रकार की नाइंसाफी नहीं होगी। यदि कोई छात्र अपने अंकों से संतुष्ट नहीं है तो उसे परीक्षा का मौका मिलेगा। इसका सरकार ने प्रावधान किया है। भविष्य में होने वाली परीक्षा में विद्यालयी शिक्षा बोर्ड आवेदन करने वाले छात्रों की उसके सभी विषयों की परीक्षा कराएगा।

इस परीक्षा में जो अंक उसे प्राप्त होंगे, उसी के आधार पर छात्र को संशोधित रिजल्ट तैयार कर दिया जाएगा। मालूम हो कि इस वर्ष हाईस्कूल की बोर्ड परीक्षा में एक लाख 47 हजार 725 छात्र शामिल हुए हैं। जबकि इंटरमीडिएट में 1 लाख 21 हजार 705 छात्रों ने परीक्षा दी है। हाईस्कूल में इस बार 99.09% तो इंटर में 99.56% विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए हैं। कोरोना संक्रमण के चलते इस बार टॉपर्स की सूची जारी नहीं की गई। दसवीं में लड़के लड़कियों से आगे रहे। संस्थागत श्रेणी में लड़कों का रिजल्ट 99.39% व लड़कियों का 98.92% रहा। व्यक्तिगत श्रेणी में बालकों का पास प्रतिशत 95.33 व बालिकाओं का 94.14% रहा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates