Browsing Category

ब्लॉग

साइबर ठगी रोकना बड़ी चुनौती

डॉ. सुरजीत सिंह गांधी दुनिया तेजी से डिजिटल होती जा रही है। हर प्रकार का कार्य, डेटा एवं पैसे का आदान-प्रदान मोबाइल, कंप्यूटर एवं इंटरनेट के जरिए हो रहा है। इंटरनेट के प्रसार के साथ-साथ आए दिन ऑनलाइन ठगी, हैकिंग, वायरस अटैक, डेटा चोरी आदि…

महंगाई का आंकड़ा

अर्थव्यवस्था की यह आम समझ है कि अगर बाजार में मांग गिरती चली जाए, तो कंपनियां उत्पादन घटाएंगी, उससे रोजगार के अवसर सिकुड़ेंगे और उन सबका नतीजा यह होगा कि मुद्रा का प्रसार घटेगा। खुदरा महंगाई बढऩे की दर अक्टूबर में 6.8 प्रतिशत रही। थोक भाव…

श्रद्धा हत्याकांड : प्रेम में प्रविष्ट पाशविकता

डॉ. घनश्याम बादल प्रेम एक आत्मिक अनुभूति है। एक-दूसरे के प्रति समर्पण, निष्ठा एवं विास का प्रतीक है प्रेम। मगर जब यह तथाकथित ‘प्रेम’ केवल दैहिक आकषर्ण रह जाए अथवा मन में वासना का ज्वर हावी हो जाए तो फिर वह प्रेम नहीं कुछ और हो जाता है।…

अपने हित की बात

पश्चिमी देशों की रूस के कच्चे तेल की कीमत पर सीमा लगाने की योजना है। इसके तहत वे देश यह तय करेंगे कि रूसी तेल किस कीमत पर बिके। मगर भारत ने साफ किया है कि वह ये शर्त नहीं मानने जा रहा है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी-20 शिखर सम्मेलन को…

राहुल के कारण दक्षिण पहुंचे मोदी?

कांग्रेस पार्टी का मीडिया विभाग इन दिनों बेहद सक्रिय है। उसका एकमात्र काम कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा और राहुल गांधी को हाईलाइट करना है। कांग्रेस का मीडिया विभाग पार्टी के प्रवक्ताओं के लिए एजेंडा तय कर रहा है और सोशल मीडिया में भी एजेंडा…

जलवायु की जुबानी चिंता

धनी देश अपनी उच्च कार्बन उत्सर्जन आधारित जीवनशैली पर कोई समझौता करने को तैयार नहीं हैं। इसकी कीमत गरीब देश चुका रहे हैँ। उन्हें राहत देन के लिए धनी देश अपने हिस्से का चंदा भी नहीं दे रहे हैं। मिस्र के शहर शरम अल-शेख में चल रहे संयुक्त…

ऑनलाइन फ्रॉड : रोकने की कठिन चुनौती

भगवती प्र. डोभाल देश भर में ग्राहकों को इस वर्ष की दीपावली में साइबर फ्रॉड के जरिए खूब ठगा गया है। इसकी जांच-पड़ताल साइबर सिक्योरिटी के ग्लोबल लीडर की पहचान रखने वाले नार्टन की ओर से ‘दि हैरिस’ पोल नाम की संस्था ने की है। संस्था ने…

भाजपा का मिशन -2023 – पॉंचवी पारी के लिए

अजय दीक्षित सन् 2023 में विधानसभा चुनाव की तैयारी में भाजपा कोई कसर नहीं छोडऩा चाहती । पार्टी ऐसे लोगों को तैयार कर रही है, जिनकी समाज में अच्छी पकड़ है। साथ ही, विदेशों में बसे प्रदेश के नौकरीपेशा और बिजनेसमैन लोगों को लुभाया जा रहा है,…

सब के लिए एक-जैसा कानून कैसे ?

वेद प्रताप वैदिक भाजपा राज्यों की सरकारें एक के बाद एक घोषणा कर रही हैं कि वे समान आचार संहिता अपने-अपने राज्यों में लागू करने वाली हैं। यह घोषणा उत्तराखंड, हिमाचल और गुजरात की सरकारों ने की हैं। अन्य राज्यों की भाजपा सरकारें भी ऐसी…

भारत में डिजिटल भुगतान की सुविधा

अजय दीक्षित हाल के वर्षों में भारत ने अपनी शासन व्यवस्था में तकनीकी क्रांति को देखा है । सरकारी सेवाओं को धीरे धीरे और लगातार तकनीक के साथ जोड़ा जा रहा है और आज अंतिम व्यक्ति तक सेवाएं माउस के केवल एक क्लिक के साथ कुछ ही सेकंडों में पहुंच…

अब तो भ्रम से निकलें

अब समय है, जब धनी देशों की आंख खुले। जिस समय दुनिया जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र के 27वें सम्मेलन के लिए तैयार हो रही है, ये तथ्य सामने आया है कि ग्लोबल वॉर्मिंग के कारण सबसे ज्यादा गर्म यूरोप का वातावरण हुआ है। अगर धनी देश इस भ्रम…

भारत में शिक्षा की दुर्दशा

वेद प्रताप वैदिक भारत में शिक्षा की कितनी दुर्दशा है, इसका पता यूनेस्को की एक ताजा रपट से चल रहा है। 75 साल की आजादी के बावजूद एशिया के छोटे-मोटे देशों के मुकाबले भारत क्यों पिछड़ा हुआ है, इसका मूल कारण यह है कि हमारी सरकारों ने शिक्षा और…

राहुल को भगवान न बनाएं

अजीत द्विवेदी राहुल गांधी जब से भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं तब से कांग्रेस के नेता उनको भगवान बनाने में लगे हैं। कांग्रेस की यात्रा को दक्षिण भारत के सभी राज्यों में अच्छा रिस्पांस मिला है। लोग यात्रा से जुड़ रहे हैं और सोशल मीडिया के…

पुल गिरने के लिए बनते हैं

अजीत द्विवेदी पाकिस्तान के मशहूर व्यंग्यकार अनवर मकसूद के लोकप्रिय टेलीविजन शो ‘लूज टॉक’ के एक एपिसोड में मोईन अख्तर शिक्षक बन कर आए थे और उन्होंने एक सवाल पूछा कि ‘पुल किसलिए बनते हैं’? एंकर अनवर मकसूद ने कई जवाब दिए लेकिन मोईन अख्तर…

फ्रांस में सस्ती फीस, अंग्रेजी में पढ़ाई का छात्रों को मौका

श्रुति व्यास फ्रांस की सरकार ने गजब फैसला किया है। पिछले महीने फ्रांस की यूरोप और विदेशी मामलों की मंत्री सुश्री केथरीन कोलोना ने एक महत्वाकांक्षी योजना की घोषणा की है। फ्रांस ने तय किया है कि सन् 2025 तक कम से कम 20,000 भारतीय छात्र वहां…

मोदी के स्वर्ण काल में भूख, कतई नहीं

हरिशंकर व्यास पिछले दिनों दुनिया की दो जानी मानी संस्थाओं की ओर से तैयार किया जाने वाला ग्लोबल हंगर इंडेक्स जारी हुआ। मतलब देशों में भूख का वैश्विक सूचंकाक। इसमें भारत छह स्थान और गिर कर 107वें स्थान पर पहुंच गया है। वह पिछले साल 101वें…

चुनाव तक बरसेगी नौकरियां

हरिशंकर व्यास बहुत दिलचस्प संयोग है कि चुनाव आयोग ने हिमाचल प्रदेश में चुनाव की घोषणा की और गुजरात की घोषणा टाल दी। उसके बाद प्रधानमंत्री ने गुजरात जाकर कई बड़ी योजनाओं की घोषणा की। दिवाली के पांच दिन चलने वाले त्योहार शुरू होने से ठीक…

अनिवार्य मतदान की तरफ बढ़ता भारत

अजीत द्विवेदी भारत धीरे धीरे अनिवार्य मतदान की दिशा में बढ़ रहा है। कुछ प्रयास चुनाव आयोग कर रहा है और कुछ सरकारी स्तर पर हो रहे हैं। हालांकि चुनाव आयुक्त रह चुके कई अधिकारियों ने इस विचार का विरोध किया है। उनको लगता है कि एक जीवंत…
Corona Live Updates