10वीं में पढ़ रही बेटी, मां ने की 12वीं की परीक्षा पास..

उत्तराखंड-10वीं में पढ़ रही बेटी, मां ने की 12वीं की परीक्षा पास , परिवार की जिम्मेदारी के साथ पढ़ाई भी..

  चमोली ये कहानी तो आपने सुनी ही होगी की पढ़ाई की उम्र नही होती…. इसकी मिसाले भी अक्सर समाज में देखने और सुनने को मिलती रहती है । ये वो कहानियां है जो लोगों को प्रेरित करती है लोगे को यह सिखाती है कि कुछ करने की लगन हो तो कोई काम कठिन नही होता  लेकिन जज्बा और मेहनत कम नही होनी चहिए..।चमोली जिले के दशोली विकासखंड  के ठेली गांव की 39 साल कह कमला रावत की । उनकी शादी 2006 में हुई थी  कमला को पढ़ने का शौक था और कुछ कर दिखाने की ललक भी  लेकिन शादी के बाद उनकी पढ़ाई अचानक से बंद हो गई..एक वक्त ऐसा भी था कि उनको यह लगने लगा था कि अब शादी के परिवार की जिम्मेदारियों के बीच आगो नही पढ़ पाएगी लेकिन उन्होने अपने मन  में चल रह युध्द को कभी होने दिया और ना उससे  हार मानी, बेटी पढाओ-बेटी बचाओ नारे से प्रभावित कमला ने ठान लिया कि वो पढ़ाई जारी रखेंगी.. उनकी बड़ी बेटी आईशा रावत इंटर कासेज मैठाणा में 10वीं में  पढ़ती  है बेटा प्रसून रावत  जूनियर  हाईस्कूल पलेठी में 8वीं और छोटी बेटी कृष्णा 5वीं पढ़ रही है, बच्चों की पढ़ाई के दौरान वो भी खुद को पढ़ने से रोक नहीं पाती थी बंच्चो से भी पढ़ने  की इच्छा जाहिर की ।…उनकी इच्छा का उनके परिवार वालों ने भी सम्मान किया और 2018 में राजकीय इंटर कालेज नंद्रप्रयाग  से 10वीं  का प्राइवेट  का फार्म भरवा  दिया । केवल फार्म ही भरा बल्कि  उन्होंने परीक्षा भी पास की। इस साल नंद्रप्रायग इंटर कॉलेज से उन्होने 2TH में 12वीं पास कर ली है।  उनका कहना है कमला रावत का कहना कि वो आगें कि  पढ़ाई जारी रखेंगो..।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates