राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर होगी केंद्रीय गृह मंत्री के विशेष अभियान पदक-2022′ की घोषणा

दिल्ली।  केंद्रीय गृह मंत्रालय (एमएचए) 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर ‘केंद्रीय गृह मंत्री के विशेष अभियान पदक-2022’ की घोषणा करेगा। इसे लेकर इस सप्ताह की शुरुआत में गृह मंत्रालय के पुलिस डिवीजन- I ने एक आंतरिक आदेश भी जारी किया था। अपने आदेश में उसने बताया था कि वर्ष 2022 के लिए “केंद्रीय गृह मंत्री का विशेष ऑपरेशन पदक” 31 अक्टूबर, 2022 को निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार घोषित किया जाएगा। गौरतलब है कि इन पुरुस्कारों की घोषणा 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस के मौके पर की जाएगी। 31 अक्तूबर को सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती के मौके पर बड़े पैमाने पर देश भर में ‘रन फॉर यूनिटी’ कार्यक्रम मनाया जाएगा।

23 जुलाई, 2018 को केंद्रीय गृहमंत्रालय ने  ‘केंद्रीय गृह मंत्री का विशेष अभियान पदक’ की शुरुआत की थी। ये पदक पूरे भारत में राज्य और केंद्र शासित प्रदेश (यूटी) पुलिस बलों, केंद्रीय पुलिस संगठनों (सीपीओ), केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और सुरक्षा संगठनों को प्रदान किया जाता है। सुरक्षा बलों को आतंकवाद, सीमा कार्रवाई, हथियार नियंत्रण, नशीले पदार्थों की तस्करी की रोकथाम और बचाव कार्यों जैसे क्षेत्रों में विशेष अभियानों के लिए यह पदक प्रदान किया जाता है।

पुरस्कार के लिए सभी सिफारिशें विशेष अभियान के तीन महीने के भीतर गृह मंत्रालय को भेजी जाती हैं। गृह मंत्रालय में एक समिति सभी नामांकनों की जांच करती है और पुरस्कार के लिए सिफारिश करती है। केंद्रीय गृह मंत्री गृह मंत्रालय की चयन समिति द्वारा अनुशंसित पुरस्कार विजेताओं की अंतिम सूची को मंजूरी देने के लिए सक्षम प्राधिकारी हैं।

प्रत्येक विजेता को पदक के साथ केंद्रीय गृह मंत्री द्वारा हस्ताक्षरित एक प्रमाण पत्र (स्क्रॉल) प्रदान किया जाता है। एक वर्ष में, पुरस्कार के लिए केवल तीन स्पेशल ऑपरेशन पर विचार किया जाता है। असाधारण परिस्थितियों में, पुरस्कार केवल राज्य और केंद्र शासित प्रदेश पुलिस को प्रोत्साहित करने के लिए पांच विशेष अभियानों के लिए दिया जा सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates