बार्डर सिक्यूरिटी फोर्स के जवानों ने भारत- पाक के सीमांत गांव दाओके के पास मार गिराया पाकिस्तानी ड्रोन 

पंजाब। पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान लगातार घुसपैथठ के चक्कर में रहता है। शुक्रवार रात भी पंजाब में भारत पाक सीमा पर अमृतसर में बार्डर सिक्यूरिटी फोर्स के जवानों ने भारत-पाक सीमांत गांव दाओके के पास पाकिस्तानी ड्रोन क्वाडकॉप्टर डीजेआई मेट्रिक्स 300 आरटीके (चीन में निर्मित) को मार गिराया। सीमांत इलाके में गश्त कर रहे बीएसएफ के जवानों ने दाओके क्षेत्र में पाकिस्तान से भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करने वाले ड्रोन की आवाज सुनी। जवानों ने लाइट फायर के साथ ही ड्रोन पर फायर कर दिए। एक गोली ड्रोन को लगी और वह आकाश से नीचे जमीन पर गिर गया।

बीएसएफ जवानों ने इसके तुरंत बाद पूरे इलाके को घेर लिया। संदेह है कि यह ड्रोन हथियारों या नशीले पदार्थों की खेप गिराने आया था। जवानों ने पूरे इलाके में सर्च अभियान शुरु कर दिया, जिसमें अभी तक जवानों कोे कोई संदिग्ध चीज नहीं मिली। भारत पाक सीमा क्षेत्र पहाड़ीपुर और जैतपुर बीएसएफ पोस्ट के बीच बीती देर रात पाकिस्तानी की ओर से घुसपैठ की नाकाम कोशिश की गई। सीमा सुरक्षा बल की ओर से जब फायरिंग की गई तो घुसपैठिए वापस पाकिस्तान की ओर भाग गए। सूचना यह भी मिल रही है कि पाकिस्तान की ओर से भी कुछ रौंद फायर किए गए। जबकि, भारतीय जवानों ने सात राउंड फायर कर घुसपैठियों को पीछे भागने के लिए मजबूर कर दिया।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीती देर रात भारत पाक सीमा जीरो लाइन स्थित पहाड़ीपुर और जैतपुर बीएसएफ पोस्ट के बीच पाकिस्तान की साइड से 2 लोगों ने भारतीय सीमा पार करने की कोशिश की गई। सजग बीएसएफ जवानों ने घुसपैठियों पर गोलियां चलाई। जिसके बाद घुसपैठिए वापिस पाकिस्तान की ओर भाग गए सूत्रों के मुताबिक बीएसएफ के सीसीटीवी में उक्त घुसपैठिए कैद हुए हैं। जोकि भारतीय सीमा के पिलर के पास कुछ संदिग्ध वस्तु गिराते देखे गए। अब सीमा सुरक्षा बल, स्थानीय पुलिस और घातक कमांडो की ओर से उक्त इलाके की घेराबंदी की की जा चुकी है और सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। फिलहाल, भारत-पाक सीमा से सटे पठानकोट जिले में यह पहली वारदात है। लेकिन, इससे पहले कई बार ड्रोन गतिविधियां हो चुकी है। जिसको लेकर सीमा सुरक्षा बल और सेकंड लाइन ऑफ डिफेंस पुलिस की ओर से सतर्कता बरती जा रही है। सेना से जुड़े सूत्रों का कहना है कि  आगामी दिनों में धुंध बढ़ने के बाद सुरक्षा व्यवस्था को और भी चाक-चौबंद किया जाएगा। शुक्रवार-शनिवार की मध्यकालीन रात्रि  समय 1.11 बजे पाकिस्तान ड्रोन जिला तरनतारन के सीमांत क्षेत्र में घुसा। लगभग 4 मिनट तक उपस्थिति दर्ज की गई। 21 राउंड फायरिंग एवं 2 रोशनी बम दागने के उपरांत, उसे खदेड़ दिया गया। सर्च ऑपरेशन निरंतर जारी हैं। इस बात की पुष्टि ,सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के वरिष्ठ प्रवक्ता ने की।

बीओपी टी जे सिंह की 103 बटालियन , भारत-पाक सीमांत क्षेत्र में गश्त कर रही थी। शुक्रवार-शनिवार की मध्यकालीन रात्रि गश्त टीम ने किसी चीज की आवाज सुनाई दी। टीम सतर्क हुई तो देखा कि आसमान में ड्रोन घूम रहा हैं। टीम एकदम सतर्क हो गई। टीम ने 21 फायरिंग तथा 2 इलू बम दागे। लगभग 4 मिनट तक ड्रोन की उपस्थिति दर्ज की गई। उसे भारतीय क्षेत्र से खदेड़ दिया गया। गौरतलब है कि दुश्मन देश पाकिस्तान, भारत में ड्रोन का इस्तेमाल कर नशा, हथियार की खेप भेजता हैं। लेकिन, बीएसएफ की टीम हर बार पाकिस्तान के मंसूबों को नाकाम कर देते हैं। फिलहाल, सर्च ऑपरेशन अल-सुबह से जारी हैं। किसी प्रकार से संदिग्ध वस्तु मिलने की बात के बारे कोई पुष्टि नहीं हुई। गहनता से जांच-पड़ताल जारी हैं।

रक्षा मामलों के विशेषज्ञों का मानना है कि अक्सर घने धुंध एवं कोहरे के समय पाकिस्तान देश की नापाक हरकतों में इजाफा हो जाता हैं। वह इन परिस्थितियों का फायदा लेने के लिए हर बार इस प्रकार के प्रयत्न करता रहता हैं। लेकिन, भारतीय रक्षा की अत्याधुनिक तकनीक एवं सीमा सुरक्षाबलों की सतर्कता, इन नापाक हरकतों को हर बार विफल कर देते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates