पहाड़ की बेटी प्रीति नेगी ने महज चार दिन में साइकिल से केदारनाथ पहुंचकर बनाया नया कीर्तिमान

रुद्रप्रयाग। पहाड़ की बेटी प्रीति नेगी ने महज चार दिन में साइकिल से हरिद्वार से केदारनाथ पहुंचकर नया कीर्तिमान बनाया, वहीं रुद्रप्रयाग जनपद का नाम भी रोशन किया है। स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने प्रीति के उज्जवल भविष्य की कामना की है। जनपद रुद्रप्रयाग की तेवड़ी सेम, चंद्रनगर निवासी प्रीति नेगी के पिता गढवाल राइफल द्वितीय में हवलदार शहीद स्व. राजपाल सिंह वर्ष 2002 में जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवादियों से लड़ते हुए देश के लिए बलिदान हो गए थे। प्रीति की माता भागीरथी देवी गृहिणी है। रिस्पेक्ट टू गाड इवेंट के जरिये पहाड़ की होनहार और जोशीली बेटी प्रीति ने 18 अक्टूबर को हरिद्वार से 272 किलोमीटर की यह यात्रा शुरू की और 21 अक्टूबर को केदारनाथ धाम पहुंची। साइकिल से हरिद्वार से केदारनाथ पहुंचने वाली प्रीति पहाड़ की पहली बेटी है।

रुद्रप्रयाग सहित पूरा उत्तराखंड प्रीति पर गर्व महसूस कर रहा है। प्रीति ने बताया कि पिता के बलिदान होने की घटना ने परिवार को झकझोर दिया था, लेकिन उसने कभी खुद को कमजोर नहीं होने दिया। मां भागीरथी देवी अपनी बेटी का लगातार हौसला बढ़ाती रही। प्रीति कुछ बेहतर कर नाम रोशन करना चाहती थी, इसलिए बचपन से ही खेलकूद के साथ, बाइकिंग, माउंटेन और साइकिलिंग में खुद को निखारने लगी। अगस्त्यमुनि से शिक्षा प्राप्ति के दौरान 2015 में स्टेट बाक्सिंग खेल चुकी प्रीति ने वर्ष 2016 में पर्वतारोहण में बेसिक कोर्स किया, जिसके बाद से वह कई चोटियों का आरोहण कर चुकी है।

वर्ष 2017 में यूथ फाउंडेशन में बतौर प्रशिक्षक लड़कियों को प्रशिक्षित भी किया। वर्ष 2019 में एक स्की कोर्स किया, जिसमें दूसरा स्थान मिला और ए ग्रेड हासिल किया। वर्ष 2022 में पर्वतारोहण में बचाव पाठ्यक्रम करने के बाद से लगातार विभिन्न इंवेटों के जरिए खुद को स्थापित करने में जुटी हैं। प्रीति की सफलता पर केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत, पूर्व विधायक मनोज रावत, महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष आशा नौटियाल सहित कई व्यक्तियों ने खुशी जताई है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates