उत्तराखंड में डेंगू के प्रकोप के साथ ही बढ़े प्लेटलेट्स बढ़ाने वाले फलों के दाम

देहरादून। डेंगू के बढ़ते प्रकोप के साथ ही प्लेटलेट्स बढ़ाने वाले फलों के दाम में भी उछाल आने लग गया है। उत्तराखंड के कई जिलों में डेंगू का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है, मौसम में ठंड़क के बाद भी डेंगू का प्रकोप जारी है। हर दिन किसी न किसी जिले में भारी संख्या में डेंगू के मरीज मिल ही रहे है। इसके चलते स्वास्थ्य विभाग से लेकर डॉक्टरों तक की मुसीबतें बढ़ी हुई है। आम जन जहां पहले डेंगू की मुसीबत से जूझ रहे थे, वहीं अब उनकी जेब का भार और भी ज्यादा बढ़ गया है। दरअसल डेंगू के दौरान प्लेटलेट्स कम होनी शुरु हो जाती है, जिससे मरीजों की समस्याएं और बढ़नी लग जाती है, ऐसे में डॉक्टर प्लेटलेट्स बढ़ाने वाले फलों का सेवन करने की राय देते है। प्लेटलेट्स बढ़ाने में सबसे ज्यादा मददगार साबित होते है, कीवी के फल, नारियल पानी और ड्रैगन फ्रूट। इसके अलावा और भी तरल पदार्थ प्लेटलेट्स बढ़ाने में मददगार होते है, लेकिन यह तीन फल डेंगू के मरीज के लिए सबसे ज्यादा सेहतमंद होते है।

अब इन दिनों डेंगू का प्रकोप कई जिलों में फैला हुआ है, जिसके चलते इन फलों की मांग अधिक हो रही है, वहीं मांग को देख इन फलों के मूल्य में वृद्धि कर दी गई है। जहां नारियल 60 से 70 रुपये की बीच में मिल रहा था, वहीं अब वह 80 रुपये का मिल रहा है। कीवी का एक फल 35 रुपये का बिक रहा है। बात अगर ड्रैगन के फ्रूट की करें तो इसकी कीमत में भी उछाल देखने को मिल रहा है। ड्रैगन फ्रूट 50 से 60 रुपये पीस की कीमत पर मिल रहा है। फलों की कीमत में इस तरह के उछाल से लोगों की समस्याएं बढ़ी हुई है। नैनीताल जिले में सर्वाधिक डेंगू के मामले देखने को मिल रहे है, जिसके चलते यहां पर प्लेटलेट्स बढ़ाने वाले फ्रूट्स की डिमांड भी ज्यादा देखी जा रही है, लेकिन फलों की कीमत में उछाल आने से लोगों के माथे पर चिंता की लकीर खींच गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Corona Live Updates